Monthly Archives: October 2019

महुआ और महुवारी की वो मदहोश करने वाली खुश्बू

महुवा के बाग में जाते ही मन प्रफुल्लित हो जाता था सुबह सुबह ताजी हवा, चिड़ियों का मधुर कलरव, कोयल का कूकना महुवे की मीठी मीठी मदहोश करने वाली खुश्बू और उस पर तोते द्वारा काटकर गिराए गए कच्चे आम को चटखारे लेकर खाने का अद्भुद स्वाद, बचपन के इन सब क्रिया कलापो में जो अनुभूति होती थी वो किसी स्वर्ग से कम नहीं थी।

Read more

भारतीय संस्कृति की परिकल्पना मे गीता, गंगा, गायत्री और गाय के महत्व को न भूलें !!

बात जब भारत या भारतीय संस्कृति की जा रही हो तो गाय, गंगा, गायत्री और गीता इन चारों के बिना सम्पूर्ण नही हो सकती है। हमारे निजी जीवन में भी इन चारों का बहुत महत्व है। गाय के महत्व के बारे में कौन नही जानता है। […]

Advertisements
Read more